Daily News Update

1. ब्लैक होल की पहली तस्वीर 


खगोलविदों ने ब्लैक होल की पहली तस्वीर खींचने मे कामयाबी हासिल की है यहब्लैक होल करीब 500 मिलियन ट्रिलियन किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जिसे आठ अलग अलग टेलिस्कोप की मदद से तस्वीरों मे कैद किया गया है ये ब्लैक होल M87 गैलेक्सी मे स्थित  है वैज्ञानिकों का कहना है कि यह ब्लैक होल सोलर सिस्टम से कई गुना बड़ा है और आकार मे यह पृथ्वी के आकार से लगभग 30 लाख गुना ज्यादा बड़ा है ब्लैक होल अंतरिक्ष का वह क्षेत्र होता है जहां गुरुत्वाकर्षण बल बहुत ज्यादा होता है गुरुत्वाकर्षण बल इतना ज्यादा होता है कि इससे लाइट भी नहीं गुजर पाती है  अगर किसी बड़े तारे का केंद्र अपने आप टूट जाता है तो ब्लैक होल का निर्माण होता है इस प्रकिया को सुपरनोवा कहते है 10 अप्रैल 2019 को विज्ञान की दुनिया में हमेशा याद रखा जाएगा इस दिन पहली बार ब्लैक होल की तस्वीर सामने आई थी

2. नयी मानव प्रजाति की खोज 


एक नयी प्रजाति की खोज की गयी है जिसके अवशेष फ़िलीपीन्स के एक गुफ़ा में मिले हैं विलुप्त हो चुकी इस नई प्रजाति के अवशेष फिलीपीन्स के सबसे बड़े द्वीप लूज़ोन में खोजे गये हैं जिसके बाद इस प्रजाति का नाम होमो लूज़ोनेसिस रखा गया है होमो लूज़ोनेसिस प्रजाति की कुछ विशेषताएं आज के दौर की मानव प्रजाति से मिलती जुलती हैं, जबकि कई विशेषताएं जैसे कि ऑस्ट्रलोपिथेसीन की तरह सीधे खड़े हो कर चलना और अफ्रीका में पाई गई बंदर से मिलती-जुलती मानव प्रजाति जैसी हैं जो करीब 20 से 40 लाख सालों पहले यहां पाए जाते थे इनकी कुछ विशेषताएं प्राचीन होमो जाति से भी मिलती हैं इनके हाथों और पैरों की उंगलियां अंदर की तरफ मुड़ी हुई हैं जो इस बात की ओर इशारा करती हैं कि ये लोग पेड़ों पर चढ़ते होंगे लेकिन लूज़ोन द्वीप चारों ओर से पानी से घिरा है और इस कारण नई खोज पर बहुत सारे सवाल खड़े हो गये हैं कि आख़िर वो इस द्वीप पर कैसे पहुंचे होंगे

3. VVPAT क्या है?

VVPAT का इस्तेमाल चुनावो मे वोटिग के समय किया जाता है VVPAT मशीन मतदान की इकाई को दर्ज करता हैंसाथ ही ये EVM मशीन की विश्वसनीयता को भी कायम रखता है। जिसके चलते EVM  मशीन इसके बिना अधूरा माना जाता है EVM मशीन को VVPAT(वोटर वेरीफ़ाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल) मशीन के साथ जोड़ दिया जाता है वोट देने वाला अपनी इच्छा के अनुसार अपने प्रत्याशी के नाम के आगे का नीले रंग का बटन दबाता है उसके बाद VVPAT मशीन पर एक पर्ची के अंदर हम 7 सेकंड तक आसानी से देख सकते है की हमने किसे Vote किया है 7 सेकंड के बाद यह पर्ची सीलबंद बॉक्स में गिर जाती है जो कि मतदाता को नहीं दी जाती है। इस पर्ची पर उस प्रत्याशी का नामचुनाव चिन्ह और पार्टी का नाम अंकित होता हैजिसे मतदाता EVM पर वोट देता है
4. देखिये असली जैसा डायनासोर

शिक्षा विभाग ने पटना में श्रीकृष्ण विज्ञान केंद्र बनाया है। इसमें विलुप्त हो चुके डायनासोर की विभिन्न प्रजातियों के मॉडल रखे गए हैंजो बिलकुल वास्वतविक लगते हैं इस विज्ञान केन्द्र में स्पेस थिएटर, 3डी थिएटरविज्ञान प्रदर्शनी, SOS थिएटरहै स्पेस थिएटर डिजिटल तारामंडल के माध्यम से ब्रह्मांड के उद्भव, विकास इत्यादि को रुचिकर ढंग से बताता है 3D थिएटर के माध्यम से विज्ञान से सम्बंधित फिल्मे देख सकते है विज्ञान प्रदर्शनी मे मनोरंजक तरीके से कहानी कहते हुए विज्ञान के मूलभूत सिद्धांतों को समझाया जाता है SOS थिएटर एक ऐसा सिस्टम है जिसके द्वरा पृथ्वी तंत्र और अन्य कई चीजों को आसानी से समझा जा सकता है

No comments:

Post a Comment

| Designed by ACS